February 29, 2024
Jharkhand News24
ब्रेकिंग न्यूज़

सदर विधायक ने हजारीबाग की रामनवमी जुलूस का मार्ग प्रशस्त करने की मांग सरकार से सदन के माध्यम से की

Advertisement

सदर विधायक ने हजारीबाग की रामनवमी जुलूस का मार्ग प्रशस्त करने की मांग सरकार से सदन के माध्यम से की

कहा हजारीबाग की रामनवमी लोकउत्सव के रूप में ख्यातिप्राप्त है, यह पर्यटन का श्रोत है और हिन्दुओं के धार्मिक आस्था का केंद्र भी

Advertisement

सरकार जुलूसों पर लगा है रोक तत्काल हटाएं, ताकि हजारीबाग की इंटरनेशनल रामनवमी की गूंज पूरा हिंदुस्तान देख सकें – मनीष जायसवाल
संवाददाता- हंसराज चौरसिया

हजारीबाग/झारखंड- हजारीबाग सदर विधायक मनीष जायसवाल ने गुरुवार को झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के दौरान हजारीबाग की इंटरनेशनल रामनवमी जुलूस कारा प्रशस्त करने की मांग सदन पटल पर पुरजोर तरीके से उठाई। विधायक मनीष जायसवाल ने कहा कि हजारीबाग की रामनवमी पूरे विश्व में प्रसिद्ध है और यह हमारे आस्था व गौरव का प्रतीक है। हजारीबाग में रामनवमी की शुरुआत होली के बाद मंगला जुलूस के माध्यम से हो जाती है। झारखंड सरकार ने वर्तमान समय में जुलूस ऊपर रोक लगा रखा रखा है। हजारीबाग की रामनवमी जहां पर्यटन का बड़ा श्रोत है वहीं हिंदुओं के धार्मिक भावना का भी बहुत बड़ा आस्था का केंद्र है। इससे मजाक नहीं किया जा सकता है। विधायक मनीष जायसवाल ने विधानसभा अध्यक्ष रामनवमी के जुलूस की अनुमति संबंधित मांग और अपने हक को झारखंड सरकार के समक्ष पुरजोर तरीके से उठाते हुए कहा कि मैं आपके माध्यम से सरकार का ध्यान आकृष्ट कर आता हूं कि पूरा मंत्रीमंडल इस पर संजीदगी से सोचें और जुलूसों पर जो प्रतिबंध है उसे तुरंत हटाते हुए रामनवमी का जुलूस निकालने का मार्ग प्रशस्त करें। विधायक मनीष जायसवाल ने बताया कि हजारीबाग में भव्य रामनवमी मनेगी जो पूरा देश देखेगा ।

हजारीबाग के रोम- रोम में रामनवमी महापर्व का दिखता है जुनून

होली का खुमार ख़त्म होते ही हजारीबाग में साम्प्रदायिक सद्भाव, भाईचारगी, तहजीब, समृद्धि, सांस्कृतिक विरासत एवं अस्मिता का प्रतिक रहा रामनवमी महापर्व की अनुगूंज पहले मंगलवार से ही मंगला जुलुश के माध्यम से हो जाता है। हजारीबाग की रामनवमी का मतलब केशरिया परचमों की पुड़पुडाहट, लोगों का एक जूनून, एक जोश, एक खुमार,सडकों पर उतरता विशाल जनसैलाब, बच्चे- बूढ़े- जवान, नर- नारियों की भीड़- भाड़, गुलजार ऐतिहासिक झांकियों का कतारबद्ध कारवां, नन्हें – नन्हें विद्युतीय बल्बों से निकलती रौशनी के बीच चुंधियाती आँखें, तासों की पुरनूर झंकार, नगाड़ों की गडगड़ाहट, पावों की थिरकन, लाठियों की तड़तडाहट, नुक्कड़ों पर शोर करते डीजे का जोर आदि है। ऐसे ही कई मनोहारी और रमणीय नज़ारे है जो हजारीबाग की रामनवमी को अद्वितीय, अनुपन, ख़ुशगवार और ख्यातिपूर्ण बना देती है। हजारीबाग के रोम- रोम में रामनवमी महापर्व का आस्था रस- बस चूका है और यहाँ लोकउत्सव का एक भव्य रूप धारण कर चूका है ।

Related posts

चौरसिया कल्याण समिति की संगठनात्मक बैठक हजारीबाग में हुई संपन्न

hansraj

गिरिडीह के विभिन्न थानों के बदले गए थाना प्रभारी, किया गया स्थानांतरण

jharkhandnews24

बंगाल में ‘द केरल स्टोरी’ बैन के बाद सुप्रीम कोर्ट में अहम सुनवाई आज

hansraj

झारखंड महिला एशियन चैंपियंस ट्रॉफी रांची 2023: भारत ने जापान को हराकर दूसरी बार जीता स्वर्ण पदक, चीन को मिला कांस्य

jharkhandnews24

जामताड़ा के शहरडाल में ईट धंसने से 2 मजदूर की मौत, विधायक डॉ इरफान अंसारी रेस्क्यू टीम के साथ बचाव कार्य में जुटे

jharkhandnews24

छठ पूजा से लौट रहे 6 लोगों को सिरफिरे आशिक ने एकतरफा प्यार में गोलियों से भूना, 2 की मौत, 4 घायल

jharkhandnews24

Leave a Comment