April 25, 2024
Jharkhand News24
जिला

आधुनिकता की युग में पर्यावरण को नुकसान पहुंचा रहे हैं लोग :सुधीर मंगलेश

Advertisement

आधुनिकता की युग में पर्यावरण को नुकसान पहुंचा रहे हैं लोग :सुधीर मंगलेश

प्रिंस वर्मा , रामगढ़

Advertisement

दुलमी प्रखंड के कुल्ही में पर्यावरण दिवस पर जंगल में रक्षा सुत्र बांधकर पेड़ पौधे बचाने का संकल्प व सपत लिया। दुलमी प्रखंड बीस सूत्री अध्यक्ष सुधीर मंगलेश ने कहा कि धरती हमारी मां है , धरती हमारी जननी है और प्रकृति हमारा जीवन है । प्रकृति के बिना मनुष्य का जीवन संभव नहीं है , लेकिन फिर भी हम विकास और आधुनिकता की दौड़ में पर्यावरण को नुकसान पहुंचा रहे हैं । हम प्रकृति से दूर जा रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि अब झरना , नदी , झील और जंगल देखने के लिए हमें बहुत दूर जाना पड़ता है पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने का खामियाजा हम समय – समय पर भुगत भी रहे हैं। कभी बाढ़ आ जाती है तो कभी बादल फटते हैं । कहीं धरती में पानी सूख रहा है तो कहीं की जमीन आग उगल रही है। ये सब क्लाइमेट चेंज की वजह से ही हो रहा है । पेडों के कटने से हवा इतनी दूषित हो गई है कि शहरों में सांस लेना भी मुश्किल हो गया है । शहरों की लाइफ तो पर्यावरण और प्रकृति से बहुत हो गई है , यहां रहने वाले लोगों को ऐसी बीमारियां हो रही हैं जो पहले न कभी सुनी और न कभी लोगों ने देखी । इन सबकी वजह कहीं न कहीं हमारी खराब होती लाइफस्टाइल भी है । विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर पूरी दुनिया में पर्यावरण को बचाने के लिए जागरुकता अभियान चलाया जाता है। मौके पर रविकांत महतो मोहित पटेल करमु कुमार मुकेश कुमार रुकेश कुमार मुकेश कुमार रोशन कुमार आदि।

Related posts

मारपीट की घटना में दंपती समेत चार लोग घायल. दो रेफर

hansraj

शांति व्यवस्था को लेकर बसंतराय पुलिस प्रशासन ने निकाला फ्लैग मार्च

jharkhandnews24

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत हजारीबाग जिले से 33 हिन्दू धर्मावलंबी द्वारिका एवं सोमनाथ का दर्शन कर लौटे

jharkhandnews24

उपायुक्त रवि शंकर शुक्ला ने काठीकुंड प्रखंड के सुदूरवर्ती गाँव शिखरपाड़ा एवं बेलगुनी का किया निरीक्षण

jharkhandnews24

इमारत ए सरिया ने भीड़ जमा कर की बैठक करने की कोशिश, पुलिस के द्वारा मीटिंग रोके जाने पर भड़के लोग

hansraj

2 साल की बच्ची ने कर दिया कमाल जो बड़े बड़े बच्चे नहीं बता पता है जो बता रही हैं 2साल कि बची वायरल कीर्ति कुमारी

hansraj

Leave a Comment